सामने आया पाक का असली चेहरा, हाफिज सईद के साथ नजर आए इमरान के मंत्री

सामने आया पाक का असली चेहरा, हाफिज सईद के साथ नजर आए इमरान के मंत्री

इमरान कैबिनेट में मंत्री नूर-उल-हक कादरी धार्मिक मामलों के मंत्री आतंकी हाफिज सईद के साथ एक मंच पर साथ बैठे नजर आ रहे हैं।

Kamal Gaur

October 2,2018 04:52

नई दिल्ली। पड़ोसी देश पाकिस्तान पीछले काफी लंबे समय से आतंकवाद को लेकर तरह-तरह के वादे कर रहा हैं। इमरान खान के प्रधानमंत्री बनने के बाद पाकिस्तान लगातार भारत से बातचीत करने की कोशिशों में जूटा हैं । इमरान के सत्ता संभालने के बाद ये उम्मीद जरुर जगी थी कि शायद पड़ोसी देश अब आतंकिस्तान से पाकिस्तान बन जाए लेकिन जिस तरह से बॉर्डर पर सेना घुसपैठ कर रही है और आतंकी जम्मू कश्मीर में अशांति फैला रहे हैं इससे उनकी सरकार के इरादे भी पाक के नापाक इरादों को बार-बार उजागर करता रहा है। 

आतंकवादियों के उपर पाकिस्तान की सरकार और उसकी हुकूमत का हाथ रहता है ये नजारा कई बार सामने आ चूका हैं। और अब एकबार फिर से एक ऐसी ही तस्वीर सामने आई हैं जिससे पाकिस्तान पूरी तरह से बेनकाब हो गया हैं। दरअसल इमरान कैबिनेट में मंत्री नूर-उल-हक कादरी धार्मिक मामलों के मंत्री आतंकी हाफिज सईद के साथ एक मंच पर साथ बैठे नजर आ रहे हैं। सामने आई तस्वीर में हाफिज सईद बीच में बैठा है, जबकि नूर-उल-हक कादरी सबसे दाईं ओर बैठा है। हाफिज सईद वहीं सरगना है जिसने 26/11 मुंबई हमले की पटकथा लिखी थी। 

बता दें कि दो दिन पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान को आतंकवाद के मुद्दे पर बेनकाब किया था।  संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए सुषमा स्वराज ने कहा कि पाकिस्तान आतंकवादी घटना को अंजाम देने में ही माहिर नहीं है, बल्कि इसको छिपाने में भी माहिर है, दुनिया ने पाकिस्तान का सही चेहरा पहचान लिया है। 

विदेश मंत्री ने कहा कि अमेरिका के इतिहास में 9/11 की घटना सबसे बड़ी आतंकवादी घटना के तौर पर देखी जाती है. अमेरिका पूरी दुनिया में 9/11 के मास्टरमाइंड ओसामा बिन लादेन को खोज रहा था लेकिन उसे नहीं मालूम था कि अपने आप को अमेरिका का सबसे बड़ा दोस्त कहने वाले पाकिस्तान ने ही ओसामा को अपने यहां छिपा कर रखा हुआ था। 

ad