हरियाणा के सीएम खट्टर ने महिलाओं के खिलाफ दिया विवादित बयान, विरोधियों ने जमकर घेरा बोले मांगे माफी

हरियाणा के सीएम खट्टर ने महिलाओं के खिलाफ दिया विवादित बयान, विरोधियों ने जमकर घेरा बोले मांगे माफी

दिन बा दिन रेप की बढ़ती घटनाओं पर हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर में विवादित बयान दे दिया है,

Jantantra Tv Desk

November 18,2018 02:42

दिन बा दिन रेप की बढ़ती घटनाओं पर हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर में विवादित बयान दे दिया है, खट्टर ने कहा कि अमूमन रेप और छेड़छाड़ के 80 से 90 फीसदी जानकारों के बीच होती है. काफी वक् के लि इकट्ठे घूमते हैं, एक दिन अनबन हो जाती है तो उस दिन उठाकरके एफआईआर करवा देते हैं कि इसने मेरा रेप किया।

सीएम ने कहा कि प्रदेश में रेप की घटनाएं बढ़ी नहीं है. पहले भी रेप होते थे आज भी होते हैं. लेकिन यह चिंता का विषय है. सीएम के बयान के बाद कई लोगों ने उनके इस बयान का विरोध किया है।

अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर के कहा कि, अगर किसी प्रदेश के CM ऐसा सोचते हैं, तो वहाँ लड़कियाँ सुरक्षित कैसे हो सकती हैं? CM साहिब रेप को justify कर रहे हैं। यही कारण है की हरियाणा में रेप बढ़ रहे हैं और बलात्कारी पकड़े नहीं जाते, खुले घूम रहे हैं।

खट्टर साहिब के इस बयान से हरियाणा की महिलाओं में ख़ासा रोष है। महिलाओं का कहना है की जो मुख्यमंत्री महिलाओं के ख़िलाफ़ इस तरह के बयान देते हैं, उनके राज्य में महिलायें कैसे सुरक्षित हो सकती हैं।

 

इसी के साथ सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा है कि महिला विरोधी बयान पर हरियाणा के सीएम को जनता से माफी मांगनी चाहिए।

 

ये कोई पहली बार नहीं है जब मनोहर लाल ने ऐसा विवादित बयान दिया है इससे पहले भी वो महिलाओं को लेकर कई बयान दे चुके हैं, सीएम बनने से पहले उन्होंने एक बयान दिया था जिसमें उन्होंने कहा था कि, अगर कोई लड़की शालीन दिखने वाले कपड़े पहनती है तो कोई लड़का उसे गलत ढंग से नहीं देखेगा.

यही नहीं, जब उनसे लड़कियों और लड़कों की आजादी के विकल्प के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, 'अगर आप आजादी चाहते हैं तो फिर नंगे क्यों नहीं घूमते. स्वतंत्रता सीमित होनी चाहिए. छोटे-छोटे कपड़ों पर पश्चिम का प्रभाव है. हमारे देश की परंपरा में लड़कियों से शालीन कपड़े पहनने के लिए कहा गया है.'

ad