राम मंदिर के निर्माण को लेकर पीएम और मोहन भागवत पर बरसे प्रवीण तोगड़िया, कहा....

राम मंदिर के निर्माण को लेकर पीएम और मोहन भागवत पर बरसे प्रवीण तोगड़िया, कहा....

प्रवीण तोगड़िया ने राम मंदिर के निर्माण के बहाने पीएम मोदी और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत निशाना साधा हैं।

Kamal Gaur

October 7,2018 07:49

नई दिल्ली। साल 2019 में होने वाले लोकसभा में अब ज्यादा समय नहीं बचा हैं। देश की सभी राजनीतिक पार्टियां अगले साल होने वाले आम चुनावो की तैयारियों में जुट गई है। 2019 लोकसभा चुनाव में अगर सबसे बड़ा कोई मुद्दा होगा तो वो हैं राम मंदिर का निर्माण। खासकर बीजेपी और कांग्रेस  राम मंदिर को लेकर एक-दूसरे पर हमलावर नजर आ रही हैं। अब इसी कड़ी में  विश्व हिंदू परिषद् के पूर्व नेता प्रवीण तोगड़िया भी कूद पड़े हैं। प्रवीण तोगड़िया ने राम मंदिर के निर्माण के बहाने पीएम मोदी और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत निशाना साधा हैं। आपको बता दें कि इस साल सितम्बर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के तीन दिवसीय व्याख्यान के दौरान  मोहन भागवत ने कहा था कि ‘‘हिंदू राष्ट्र का यह मतलब नहीं है कि मुस्लिमों के लिए कोई स्थान नहीं है। इसी को लेकर अब तोगड़िया हमलावर हो गए हैं। तोगड़िया ने यह कहने के लिए भागवत की आलोचना की कि ‘‘हिन्दू राष्ट्र का मतलब यह नहीं है कि यहां मुस्लिमों के लिए स्थान नहीं है.’’ 

तोगड़िया ने कहा, ‘‘हम 52 वर्ष पहले आरएसएस में यह जानकर शामिल हुए थे कि यह हिंदू संगठन है. लेकिन अब हमें महसूस होता है कि यह केवल मुस्लिम समुदाय के हितों के लिए चिंतित है.’’ विहिप के पूर्व नेता ने आरोप लगाए कि आरएसएस अयोध्या में राम मंदिर बनाने में रूचि नहीं रखता है। उन्होंने आगे कहा कि मंदिर बनाने की मांग करने के बजाए आरएसएस प्रमुख को प्रधानमंत्री को ‘‘आदेश’’ देना चाहिए कि सरकार संसद में कानून बनाकर राम मंदिर बनाने का रास्ता साफ करे. तोगड़िया ने कहा, ‘‘जब एससी-एसटी कानून की बात आती है तो मोदी कहते हैं कि मामले पर संसद निर्णय लेगी न कि अदालतें .  लेकिन जब राम मंदिर बनाने की बात आती है तो मोदी पीछे हट जाते हैं और कहते हैं कि इस मुद्दे पर अदालतें निर्णय करेंगी न कि संसद.’’ 

तोगड़िया ने रविवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘मैं पूछना चाहता हूं कि क्या गौ हत्यारों, लव जिहादियों, कश्मीर के पत्थरबाजों और पाकिस्तानी झंडे फहराने वालों के बिना हिंदुत्व नहीं बचेगा.’’ बता दें कि तोगड़िया सोमवार को यहां राममंदिर निर्माण को लेकर अनशन पर डटे महंत परमहंस दास से मिलने आयेंगे।  स्वामी परमहंस पिछले एक अक्टूबर से लगातार अपने आश्रम के सामने स्थित अशोक वृक्ष के नीचे आमरण अनशन पर बैठे हुए हैं। 

ad